Awaz Jana Desh | awazjanadesh.in
स्वास्थ्य

A family who eats together, stays together

एक कहावत है- “A family who eats together, stays together” हम सब इस कहावत को बचपन से सुनते आए हैं और कुछ हद तक मानते भी, लेकिन क्या आप जानते हैं कि वैसे कपल्स जो साथ में ड्रिंक करते हैं… हमेशा साथ रहते हैं। सुनकर अंचभा हो सकता है लेकिन ये सच है। एक स्टडी की मानें तो कपल्स की ड्रिंकिंग हैबिट उनकी कम्पैटिबिलिटी यानी रिश्ते की अनुकूलता और योग्यता को बढ़ा सकती है।
क्या कहती है स्टडी?
ऐल्कॉहॉलिज्स: क्लिनिकल ऐंड एक्सपेरिमेंट्ल रिसर्च नाम से की गई यह स्टडी जर्नल्स ऑफ जेरॉनटोलॉजी में प्रकाशित की गई थी। इस स्टडी के अनुसार जिन कपल्स की ड्रिंकिंग हैबिट एक जैसी है, वे अलग-अलग ड्रिकिंग हैबिट्स वाले कपल्स की तुलना में ज्यादा खुश रहते हैं और उनकी रिलेशनशिप भी काफी खुशहाल रहती है। इसके अलावा अगर एक पार्टनर ड्रिंक करता है और दूसरा नहीं, तो इस रिलेशनशिप से भी ज्यादा खुशहाल एक जैसी ड्रिकिंग हैबिट वाले कपल्स होते हैं।
कम्पैटिबिलिटी फैक्टर
इस स्टडी के शोधकर्ताओं ने ये भी पाया कि एक जैसी ड्रिंकिंग हैबिट वाले कपल्स अपनी बाकि हैबिट्स को भी एक दूसरे के साथ शेयर करते हैं जिससे उनकी कंपैटिबिलिटी बढ़ती है। ये बूढ़े कपल्स पर भी लागू होता है क्योंकि ये स्टडी 50 साल से ऊपर की उम्र वाले कपल्स पर भी की गई है।
हालांकि जरूरी नहीं है कि हमेशा ऐसा हो कि जो कपल्स साथ ड्रिंक करते हैं उन्हीं की रिलेशनशिप खुशहाल हो।
शोधकर्ताओं के अनुसार जो कपल्स काफी ज्यादा ड्रिंक करते हैं, उनके बीच अन्य कपल्स की तुलना में किसी बात पर सहमति नहीं बन पाती और तलाक तक की संभावना ज्यादा रहती है।
जब केवल एक पार्टनर ही ड्रिंक करे
इस अध्ययन के अनुसार जब दोनों में से केवल एक पार्टनर ही आदतन शराब पीता है और दूसरे को इससे परहेज हो तो ऐसी स्थिति में इसका पूरा असर रिलेशनशिप पर पड़ता है। अगर वाइफ को ड्रिंक से परहेज हो और उसका पार्टनर ड्रिंकर हो तो मतभेद के साथ-साथ और भी तरह की समस्याएं होती हैं जिससे आगे चलकर रिश्ता खराब हो सकता है।
-एजेंसियां

Related posts

ये दिवाली कोरोना से सुरक्षा वाली

Editor@Admin

जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजेंद्र जार ने सीएम जयराम ठाकुर पर साधा निशाना

Editor@Admin

अल्ट्रासाउंड सेंटर पर स्वास्थ विभाग की टीम ने छापा मार की मशीन सील

Editor@Admin

Leave a Comment