Awaz Jana Desh | awazjanadesh.in
अंतरार्ष्ट्रीय

अप्रवासी भारतीय कुरुक्षेत्र में लगाए पेड़ों को बड़ा वृक्ष बनता देख होते है प्रसन्न

संस्था एच.ई.एस. के ग्रीन एवं क्लीन अभियान में एन.आर.आई. का योगदान अहम : प्रो. सैनी।

दैनिक आवाज जनादेश- वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक।

अमेरिका, कनाड़ा तथा आस्ट्रेलिया के अप्रवासी भारतीयों ने कुरुक्षेत्र में लगाए सैंकड़ो पेड़।

कुरुक्षेत्र, 22 सितम्बर : हरियाणा एनवायरमेंटल सोसायटी (एच.ई.एस.) के अध्यक्ष ग्रीन मैन प्रो. एस.एल. सैनी ने बताया कि उनकी संस्था ने जैसे पिछले तीन दशकों में लोगों के सहयोग से यमुनानगर को हरा भरा कर दिया है। उसी तरह से वह पिछले 8 वर्षों से कुरुक्षेत्र में हरियाली लाने के लिए युद्ध स्तर पर कार्यरत हैं। उन्होंने बताया कि जब वह ब्रह्मसरोवर के पार्किंग एरिया में अमेरिका निवासी बृजेश एवं मेघना सैनी की पुत्री इनायत सैनी द्वारा ढाई वर्ष पहले लगाए गए पौधे की वर्तमान वस्तुस्थिति देखने पहुंचे तो पौधा विशाल वृक्ष बन चुका है। उन्होंने बताया वह संस्था एच.ई.एस. के प्रयास से लगाए पौधे को वृक्ष रूप में देखकर प्रसन्न हुए। उन्होंने वृक्ष का चित्र विवरण के साथ अमेरिका भेजा है। यह संस्था के लिए उपलब्धि भी है। इस मौके पर प्रो. एस.एल. सैनी के साथ इनायत सैनी के दादा कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर एमेरिटस डा. हरिसिंह भी थे जिन्होंने बताया कि उनकी पोती अमेरिका के जिस स्कूल में पढ़ती है। वहां अपने सहपाठियों को वह अपने द्वारा सार्वजनिक स्थल पर लगाए गए पौधे का वृक्ष के रूप में विकसित रूप दिखाकर बहुत खुशी महसूस करती है। साथ ही उत्साहित होकर अमेरिका में अपने माता पिता एवं वहां पर रह रहे अन्य सदस्यों के सहयोग से एच.ई.एस. का एक अमेरिका चैप्टर शुरू करना चाहती है। डा. हरि सिंह जो कि एच ई एस के कुरुक्षेत्र चैप्टर के कोऑर्डिनेटर हैं ने बताया कि उनका बड़ा बेटा व उनके नजदीकी रिश्तेदारों के कई परिवार भी अमेरिका, कनाड़ा तथा आस्ट्रेलिया के निवासी हैं। वह जब भी कभी भारत वापिस आते हैं तो हर बार अपने अपने परिवार के सभी सदस्यों के नाम पर संस्था एच.ई.एस. के तत्वाधान में पौधारोपण करने में अपना सहयोग करते हैं। पौधों की परवरिश का जिम्मा उनकी संस्था का है। प्रोफेसर सैनी ने बताया की डा. हरिसिंह के परिवार के एन.आर.आई. सदस्यों द्वारा कुरुक्षेत्र में सैकड़ों वृक्ष लगाए जा चुके हैं। जिनमें से अधिकांश पेड़ों का रूप ले चुके हैं। उन्होंने बताया कि विदेशों में रह रहे उनके अपने विद्यार्थी भी साल में कम से कम एक एक बार इस अभियान में अपना योगदान सालों साल से करते आ रहे हैं।

अमेरिका के अप्रवासी भारतीय बच्चे द्वारा कुरुक्षेत्र में लगाया पौधा पेड़ बना, साथ में प्रो. एस.एल. सैनी व अन्य।

Related posts

हिमाचल प्रदेश मंत्रिमण्डल ने खोला नौकरियों का पिटारा,3000 बढ़ी छात्रा वृति

Editor@Admin

धर्मनगरी कुरुक्षेत्र जयराम विद्यापीठ में यज्ञ का आयोजन…

Editor@Admin

हिमाचल में सार्वजनिक जगह पहनना होगा मास्‍क, न्‍यूनतम किराया पांच रुपये, पढ़‍िए कैबिनेट के बड़े फैसले

Editor@Admin

Leave a Comment