Awaz Jana Desh | awazjanadesh.in
अपराध खबरें

भांजी के घर जाते एक ही परिवार के 4 लोगो की मौत…

आवाज़ जनादेश/चौपाल
चौपाल विधानसभा क्षेत्र के चौपाल नेरवा मुख्य सड़क नेवटी के पास एक दर्दनाक हादसा पेश आया जिसमें एक ही परिवार के 4 सदस्य की मौके पर दर्दनाक मौत हो गई। अपनी भांजी के घर जा रहे आर.ओ.देहा रूप सिंह और उनका परिवार बच्चा होने की ख़ुशी में बधाई देने जा रहे थे।


पुलबाहल निवासी एक ही परिवार के चार सदस्यों व उनकी बहन एक ही वाहन में सवार थे जिसमें 4 सदस्य की हादसे में मौत हो गई,जबकि एक गंभीर रूप से घायल होकर जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहा है । जानकारी के अनुसार एक ही परिवार के आठ लोग दो गाड़ियों में सवार हो कर पुलबाहल से ग्राम पंचायत देइया के चीलराना गाँव जा रहे थे । बोलेरो जीप संख्या एचपी 62 सी 0900 में पांच लोग सवार थे,जबकि मारुती कार में तीन लोग सवार थे । इस दौरान बोलेरो जीप हादसे का शिकार हो कर करीब एक सौ मीटर नीचे हामलटी खड्ड बोलेरो के पीछे चल रहे परिवार के सदस्यों ने बताया कि जब बोलेरो नेरवा चौपाल मार्ग पर न्योटी से करीब दो सौ मीटर पहले पंहुची तो सामने से तेज गति से एक बाईक आ गई । बाइक को बचाने के चक्कर में जीप का चालक संतुलन खो बैठा और जीप बिना कहीं टकराये करीब सौ मीटर नीचे हामलटी खड में जा गिरी । एक महिला का शव खड्ड में करीब आठ सौ मीटर आगे बह गया था । जिस स्थान पर हादसा हुआ वह स्थान इतना दुर्गम है कि शवों को निकलने के लिए आधा किलोमीटर दूर से घूम कर खड्ड तक पंहुचना पड़ा एवं इन्हें निकलने में पुलिस टीम और स्थानीय लोगों को करीब डेढ़ घंटे का समय लग गया । हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए एक व्यक्ति को आईजीएमसी शिमला रेफर कर दिया गया है । हादसे में तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई,जबकि एक ने नेरवा अस्पताल में दम तोड़ दिया । गंभीर रूप से घायल एक व्यक्ति को आईजीएमसी शिमला रेफर कर दिया गया है । मृतकों की पहचान पदम् सिंह,पुत्र रति राम,आयु 52 वर्ष,सीमा देवी पत्नी पदम् सिंह आयु 48 वर्ष,पन्ना देवी, तीनो निवासी भूनी,ग्राम पंचायत तुन्डल एवं सुनीता देवी,पत्निनिहाल सिंह निवासी रेवाड़,ग्राम पंचायत तुन्डल,तहसील चौपाल, जिला शिमला के रूप में हुई है । घायल व्यक्ति रूप सिंह,पुत्र रति राम आयु 55 वर्ष मृतक पदम् सिंह का सगा भाई है तथा दोनों भाइयों की पत्नियां भी मृतकों में शामिल है । प्रशासन की तरफ से तहसील दार नेरवा जगपाल सिंह द्वारा मृतकों के परिजनों को दस दस हजार रुपये की फौरी राहत प्रदान की गई है । एसडीपीओ चौपाल राज कुमार ने मामले की पुष्टि की है ।

Related posts

. रविराज बने आयुष विश्वविद्यालय के यूथ वेलफेयर …

Editor@Admin

ग्रीष्मोत्सव घुमारवीं में नगर परिषद की नाकामी लोगों के लिए बनी परेशानी का सबब

Editor@Admin

ऊपरी बल्ह में 70 सालों से सूखा पड़ा था उम्मीदवारी को लेकर उसके लिए जगी आस किरण…

Editor@Admin

Leave a Comment