Awaz Jana Desh | awazjanadesh.in
अंतरार्ष्ट्रीय

सोनिया जी हमें कबूलनामा चाहिए, हंगामा नहीं : त्रिलोक

आवाज़ जनादेश/ शिमला,
भाजपा के प्रदेश महामंत्री और मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार त्रिलोक जम्वाल ने दावा किया कि कांग्रेस को लगता है कि वह “डकैती” में शामिल होने की हकदार है और किसी को भी इस पर सवाल नहीं उठाना चाहिए।
उन्होंने नेशनल हेराल्ड अखबार से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से पूछताछ के खिलाफ कांग्रेस के ‘सत्याग्रह’ के लिए उसकी आलोचना की।
त्रिलोक ने कहा कि मुझे कई बार लगता है कि कांग्रेस के लिए ईडी का मतलब ‘डकैती का हक’ था। उन्हें लगा कि वे डकैती करने के हकदार हैं और किसी को उनसे सवाल नहीं करना चाहिए।”
जो भ्रष्ट हैं उन्हें यह नहीं सोचना चाहिए कि उनकी जांच नहीं होगी।
उन्होंने कहा, ‘भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस भाजपा का आदर्श वाक्य रहा है। जिस तरह से कांग्रेस पार्टी आज नेशनल हेराल्ड मामले में ईडी के समक्ष सोनिया गांधी की पेशी के खिलाफ सत्याग्रह का नाटक कर रही है, उस पर पूरा देश नजर रख रहा है।’ विपक्ष के पास उठाने के लिए कोई मुद्दा नहीं बचा है।
‘सत्याग्रह’ करने के लिए कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘सोनिया जी हमें स्वीकारोक्ति चाहिए, हंगामा नहीं।
त्रिलोक ने कहा, “एक जांच एक उचित प्रक्रिया है। देश की कानून की प्रक्रिया अपना उचित समय लेगी और तार्किक निष्कर्ष पर पहुंचेगी। यह भारत की सुंदरता है।”
जब कांग्रेस नेताओं सोनिया गांधी और राहुल गांधी के खिलाफ 5,000 करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार के आरोप होंगे, तो स्वाभाविक रूप से उन पर सवाल उठाए जाएंगे।
उन्होंने दावा किया कि गबन की गई संपत्ति करदाताओं और स्वतंत्रता सेनानियों की थी जिन्होंने अपने जीवन का बलिदान दिया, और एक परिवार ने इसे छीन लिया, उन्होंने दावा किया कि (अपराध के लिए) जिम्मेदार लोगों को पूछताछ का सामना करना पड़ेगा।

Related posts

चीन की टेनिस स्टार ने रिटायर कम्युनिस्ट नेता पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए

Master@Admin

चीन की मदद से पाकिस्‍तान अपना रेल नेटवर्क सुधारने की कोशिश कर रहा है

Master@Admin

रुस और यूक्रेन के बीच बढ़ते तनाव को देखते हुए भारतीय लोगो की चिंता बढ़ी

Editor@Admin

Leave a Comment