Awaz Jana Desh | awazjanadesh.in
अंतरार्ष्ट्रीय

कॉंग्रेस नेत्री रिपना कलसैक ने दी बीजेपी नेत्री रश्मि सूद को निसीयत

आवाज जनादेश/ब्यूरों*

जैसे जैसे चुनाव नजदीक आरहे है वैसे वैसे सभी राजनीतिक दलों को लोगों की याद आना भी शुरू हो गई है, स्वाभाविक भी है क्योंकि इस समय वोट बैंक बनाना जरूरी है l
सभी राजनीतिक दल अपने पासे फैंकने शुरू कर रहे हैं l
एक तरफ जहाँ पुराने मुद्दो की उधेड़बुन शुरू हो गई है वही दूसरी तरफ जुबानी जंग भी छिड़ गई है l
चौपाल विधानसभा क्षेत्र के बहुचर्चित गुड़िया मामले मे इन दिनों भाजपा और कांग्रेस में जुबानी जंग छिड़ हुई है देखने वाली बात यह है कि प्रतिभा सिंह के बयान के बाद भाजपा के कांग्रेस को मात देने का मुद्दा हाथ लगा है हालांकि प्रतिभा सिंह ने इसे मीडिया में तोड़ मरोड़ कर पेश करने की बात कह कर अपनी सफाई दे दी है परंतु भाजपा और कांग्रेस के बीच यह मुद्दा जुबानी जंग तक पहुंच गया है l
एक तरफ जहां भाजपा की नेत्री गुड़िया के परिजनों से मिलने पहुंची वहीं कांग्रेस की महिला कार्यकर्ताओं ने भी भाजपा नेत्रीयों को सलाह दे डाली कांग्रेस की प्रदेश सचिव रिपना कलसाइक ने अपने बयान में कहा है कि जिस तरह रेशमी सूद गुड़िया के परिवार से मिलने पहुंची है उसे लगता है कि भाजपा सत्ता के लोभ में मानवता भूल गई है l
उन्होंने रेशमी सूद पर जमकर हमला बोला है कहा है कि अगर रेशमी सूद इतनी ही हितेषी थी तो गुड़िया के परिवार से आज तक मिलने क्यों नहीं आई भाजपा को चुनाव के समय ही यह सब याद क्यों आ रहा हैl रेशमी सूद भी खुद एक महिला है उन्हें बेटी को खोने का दर्द मालूम होगा अपनी राजनीति को चमकाने के लिए दुखी परिवार के जख्म कुरेद ने का हक किसी को नहीं है जो कि भाजपा कर रही है यदि दुखद परिवार के प्रति इतनी ही संवेदनाएं थी या इस घटना से इतनी आहत थी साथ हो रहे आज तक पीड़ित परिवार से मिलने क्यों नहीं पहुंची उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि भाजपा के कार्यकाल में हुए सैकड़ों बलात्कारों की छानबीन क्यों नहीं करवाती क्षेत्र की बेटी गुड़िया मामले पर राजनीति भाजपा नेत्री गुड़िया के घर जाकर राजनीतिक टीआरपी लेना चाहती है और सवाल किया है कि जब यह मामला हुआ था तो उन्होंने परिजनों को इंसाफ दिलाने में कितनी मदत की थी l
आज रेशमी सूद गुडिया घर जाकर सिर्फ जख्मों को कुरेद रही है। जो बर्दाश्त नहीं हो सकता उन्होंने नसीहत दी है कि यह राजनीति लाशों पर न करें जिस घर में अपनी बेटी को खोया है उसी घर को उस दर्द का एहसास होगा राजनीतिक हवा देने के लिए कोई और स्थान भाजपा को चिन्हित करना चाहिए रेशमी सूद को अगर आप की हित की इतनी चिंता है तो बीजेपी की सरकार में हुए सेकडो बलात्कार के मामले पर आवाज उठानी चाहिए और उन सब को इंसाफ दिलाना चाहिए
फिर हम भी समझते की आप सच में महिला हितेषी हैl

Related posts

अमेरिका ने कहा, भारत व अफगानिस्‍तान में हमले की साजिश रच रहे हैं लश्कर और जैश

Master@Admin

असमानता को हरा दें तो जड़ से मिट सकती है महामारी कोरोना: WHO चीफ

Master@Admin

ब्राह्मण संगठनों ने आई.ए.एस. में चयनित पं.कल्पेश शर्मा का सपरिवार भव्य स्वागत

Editor@Admin

Leave a Comment